कांग्रेस की हालत खिसयानी बिल्ली खंबा नोचे जैसी :किशन कपूर

SPOT LIGHT 24

शिमला

 

    खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले मंत्री किशन कपूर ने प्रदेश सरकार के एक वर्ष का सफल कार्यकाल पूरा होने पर आयोजित ‘जन आभार रैली’  के खर्चे को लेकर कांग्रेस नेताओं द्वारा उठाए जा रहे सवालों पर कड़ी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर को जिस खुले दिल से जन सहयोग व समर्थन मिल रहा है, उससे कांग्रेस ‘डिप्रेशन’ में आ गई है। रैली में उमड़े जन सैलाब से कांग्रेसी नेताओं के पेट में दर्द उठना स्वभाविक है। बौखलाहट में, कांग्रेसी नेता खर्चे का रोना रोकर हंसी के पात्र बन रहे हैं। दरअसल कांग्रेस की हालत खिसयानी बिल्ली खंबा नोचे जैसी है। कपूर ने बुधवार को शिमला से जारी प्रेस वक्तव्य में कांग्रेसी नेताओं को इस तरह की अनर्गल बयानबानी न करने की चेतावनी दी है।

सवाल पूछने से पहले हिसाब दें

कपूर ने कांग्रस नेताओं से प्रश्न किया कि हिसाब मांगने वाले पहले यह बताएं कि दिसंबर 2016 में तत्कालीन कांग्रेस सरकार ने जब धर्मशाला में अपनी सरकार के चार साल पूरा होने पर कार्यक्रम आयोजित किया था तब, राहुल गांधी किस हैसियत से सरकारी कार्यक्रम में आए थे। वह किस संवैधानिक पद पर थे, जो सरकारी कार्यक्रम में मुख्य अतिथि बन गए। वह कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष तक भी नहीं थे। उस समय रैली का खर्चा किसने किया था। राहुल जी की रैली की खाली कुर्सियों के कटु अनुभव इन कांग्रेसी नेताओं को स्मरण रखने चाहिए।

मोदी जी देश के प्रधानमंत्री हैं। हर वर्ग व व्यक्ति के मन में उनके प्रति सम्मान व स्नेह का भाव है। हिमाचल को जिस उदारता से वे आर्थिक सहायता दे रहे हैं, प्रदेश की जनता उनकी आभारी है। वह हिमाचलवासियों के निमंत्रण पर आए और लोगों ने उनका आभार जताया। पहली बार कोई प्रधानमंत्री सरकारी योजनाओं के लाभार्थियों के बीच जाकर उनसे मिला, सीधा संवाद किया और हौंसला बढ़ाया।

जयराम सरकार के काम से कांग्रसी खेमे में खलबली

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के गतिशील नेतृत्व में गरीबों, उपेक्षित व आम लोगों के कार्य आसानी से हो रहे हैं उससे कांग्रसी खेमे में खलबली है। सरकार ने एक वर्ष की अल्पावधि में जनकल्याण की 30 नई योजनाएं शुरू कर सुशासन व स्वर्णिम हिमाचल के निर्माण के लिए अपनी प्रतिबद्धता स्पष्ट की है। जनमंच जैसा जनकल्याणकारी कार्यक्रम चलाकर सरकार ने समाज के अंतिम व्यक्ति की आवाज को सशक्त मंच प्रदान किया है। गृहिणी सुविधा योजना ने हर घर से परेशानियों के धुएं को दूर किया है। मुख्यमंत्री स्वावलंबन योजना एवं मुख्यमंत्री युवा आजीविका योजना से युवा स्वरोजगार के लिए प्रोत्साहित हुए हैं। शिक्षा और पर्यटन के क्षेत्र में किए जा रहे कार्यों से प्रदेश में विश्वास और विकास का वातावरण बना है।

हुड़दंगी कांग्रेसी कैसे पचा सकते हैं अनुशासित रैली

कपूर ने कहा कि हुड़दंग करना कांग्रेस की संस्कृति का हिस्सा है। वह यह पचा ही नहीं पा रहे कि डेढ़ लाख लोग रैली में शामिल हुए और कोई हुल्लड़बाजी नहीं हुई। भाजपा और कांग्रेस में यही मूल फर्क है। कांग्रेस के कार्यक्रम में बवाल न हो, यह संभव नहीं। लेकिन, भाजपा अपने अनुशासन के लिए जानी जाती है। सभा स्थल पर स्थान न मिलने के बावजूद भी कार्यकर्ताओं ने शहर के विभिन्न स्थानों पर लगाई गई एलईडी स्क्रीनों पर शांतिपूर्ण तरीके से कार्यक्रम को देखा।

कांग्रेस के दोगलेपन से सब वाकिफ

किशन कपूर ने कहा कि पांच साल तक जनता के पैसे पर ऐश लूटने वाले कांग्रेसी आज सरकारी खजाने पर बोझ की बात करते हैं। जयराम सरकार जनता के लिए ईमानदारी और पारदर्शिता से काम कर रही है और कांग्रेस को यह चुभ रहा है। अपनी फैक्टरियां लगाने, प्रौपर्टी डीलिंग और माईनिंग डीलों में लिप्त रहे कांग्रेसी नेता आज जनता के पैरोकार बनने की नौटंकी कर रहे हैं, प्रदेश की जनता इसे बखूबी जानती है। गरीबों का शोषण करने वाली कांग्रेस के चरित्र के दोगलेपन और काले कारनामों से जनता अच्छी तरह वाकिफ है। उनकी झूठ की हांडी दोबारा नहीं चढ़ने वाली।

उन्होंन कांग्रेस के नेताओं को अवसाद और हताशा की राजनीति से बाहर आकर प्रदेश हित में सकारात्मक राजनीति करने की नसीहत दी है।